मुंबई कस्टम्स के जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े जी का 102वीं जयंती समारोह

0

सन 1960-70  के दशक में मुंबई बंदरगाह के माध्यम से तस्करी करने वाले कई तस्करों को सबक सिखाने वाले और कानून व्यवस्था की रक्षा करने वाले मुंबई कस्टम के नायक, जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े जी कि 102वीं जयंती 2 जुलाई 2024 को मनाई गई। मुंबई सीमा शुल्क भवन के दयाशंकर सभागार में सीमा शुल्क के प्रधान मुख्य आयुक्त श्री. पी.के. अग्रवाल जी की अध्यक्षता में यह समारोह संपन्न हुआ।

सुबह 11 बजे मुंबई कस्टम्स के परिसर में वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया। फिर दोपहर 3 बजे कस्टम्स विभाग कि ओर से राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े के नाम पर विशेष सम्मान चिन्ह देकर सम्मानित किया गया | इस अवसर पर श्री. पी.के अग्रवाल जी ने मार्गदर्शन करते हुए कहा कि दो बार राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े मुंबई कस्टम्स के नायक थे। अगले वर्ष से सीमा शुल्क विभाग में 2 जुलाई को ‘खेल दिवस’ के रूप में और जुलाई के पहले सप्ताह को ‘खेल सप्ताह’ के रूप में मनाया जाएगा। खेल के क्षेत्र में विशेष प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा। अब से जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े जी कि जयंती हर वर्ष भव्य पैमाने पर मनाई जाएगी।

एक महीने में एक सरकारी समारोह के दौरान, सीमा शुल्क का आधिकारिक झंडा जुन्नर तालुका में उनके जन्मस्थली, मंगरुल पारगांव में जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े जी के प्रतिमा के पास फहराया जाएगा। उनके गांव के लोगों को इस बात पर गर्व होना चाहिए कि जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े न केवल गांव के नायक हैं, बल्कि भारतीय सीमा शुल्क विभाग के भी नायक हैं। हम आपको ये दिखाना चाहते हैं. इसके लिए मुंबई कस्टम्स की पूरी टीम वर्दी में अपने गृहनगर जाएगी और मुंबई कस्टम्स का झंडा फहराएगी।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में शिवाजी पार्क, मुबंई स्थित समर्थ व्यायाम मंदिर के प्रमुख एवं पद्मश्री से सम्मानित उदय देशपांडे जी ने सीमा शुल्क में काम करने के दौरान खेल के क्षेत्र से जुड़ी अपनी यादों को दोहराया। वहीं खेल के क्षेत्र में द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित श्री. क्लेरेंस लोबो जी ने जमादार बापू लक्ष्मण लामखड़े जी कि जयंती मनाने पर और इस अवसर पर खिलाड़ियों को सम्मानित करने के लिए मुंबई सीमा शुल्क समूह सी अधिकारी संघ के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी।

इस सुनहरे समारोह की आरंभ ऑल इंडिया कस्टम्स ग्रुप सी ऑफिसर्स फेडरेशन के अध्यक्ष श्री. संतोष पेडणेकर जी द्वारा किया गया। मुंबई सीमा शुल्क के मुख्य प्रधान आयुक्त श्री. पी. के.अग्रवाल, प्रधान आयुक्त श्री. सुनील जैन जी , अपर आयुक्त श्री. अरविंद घुगे जी, पद्मश्री उदय देशपांडे जी और द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता क्लेरेंस लोबो जी उपस्थित थे। समारोह का संचालन यशस्विनी भालेराव जी ने किया और धन्यवाद मुंबई कस्टम ग्रुप सी ऑफिसर्स यूनियन के अध्यक्ष श्री अजित शिंदे जी ने आभार माना |

कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मुंबई कस्टम्स ग्रुप सी ऑफिसर्स यूनियन के सभी पदाधिकारियों ने बहुत मेहनत की और अपना काम बखूबी निभाया। ‘आसरा मुक्तांगन’ के प्रबंध संपादक और पूर्व सीमा शुल्क अधीक्षक श्री मोहन शिरकर जी ,पोर्ट ट्रस्ट कामगार दिवाली अंक के सह-संपादक बालकृष्ण लोहोटे जी , कार्यकारी संपादक मारुति विश्वासराव जी , अखिल भारतीय सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क समूह सी फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष श्री विजय गायकवाड जी , सचिव श्री. संजय नारकर जी, श्री. दिपक परब जी के साथ-साथ जमादार बापू लामखड़े के मानस पुत्र श्री. जयवंत दाभाड़े जी आदि गणमान्य तथा कस्टम्स विभाग के सेवानिवृत अधिकारी गण और कस्टम्स के अधिकारी-कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Share.

About Author

Leave A Reply

Maintain by Designwell Infotech